India will not share own river water नितिन गडकरी का बड़ा फ़ैसला

India will not share own river water नितिन गडकरी का बड़ा फ़ैसला


nitin gadkari tweet | nitin gadkari faisala

अब भारत ने पाकिस्तान जाने वाली रावी, सतलज और ब्यास नदियों के पानी को रोकने का बड़ा फ़ैसला किया है।

अब भारत ने निर्णय लिया है की तीन नदियो के पनि का रुख मोड देगा और अब पनि पाकिस्तान मे नहीं जा पाएगा। पूरे दुनिया मे युद्ध के विशेषज्ञो का कहना है की अपने दुश्मन पे दया करना विनाश का निमंत्रण देना है भारत पाकिस्तान को कई तरह से कई मदद करता है लेकिन पाकिस्तान को इन सबका कोई असर नेही पड़ता है पाकिस्तान मे भारत की कई नदिया जैसे सिंधु, रावी, व्यास, सतलज, छेनाब और झेलम जाती है।

nitin gadkari


भारत सरकार ने यह फैसला लिया है की सिंधु नदी की संधि अपनी जगह कायम रहेगी और रावी, सतलज और ब्यास नदियों का पानी डैम बनाकर रोका जाएगा। शाहपुर-कांडी डैम बनाने का काम कुच्छ महीने पहले से ही शुरू हो चुका है। और भी डैम बनाने के लिए सरकार ने फैसला लिया है। देश के बटवारे के समय तीन नदिया पाकिस्तान को मिली थी और तीन हिंदुस्तान को, लेकिन हमारी भी तीन नदियो का पानी पाकिस्तान को ही जा रहा था। इसलिए हिंदुस्तान ने देर से ही सही फैसला लिया है। अब इन तीनों नदियो का पानी डैम बनाकर रोका जाएगा और कई जल परियोजनाओ मे इस पानी का उपयोग किया जाएगा।

केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी के ट्वीट कर इसकी सार्वजनिक जानकारी दी। गडकरी के इस ट्वीट पर  ज़्यादातर सकारात्मक प्रतिक्रियाएं ही आई हैं।

Post a Comment

0 Comments